Best Vashikaran Tips


सम्मोहन शक्तिवर्द्धक सरल उपाय :
 
१. मोर की कलगी रेश्मी वस्त्र में बांधकर जेब में रखने से सम्मोहन शक्ति बढ़ती है।
 
२. श्वेत अपामार्ग की जड़ को घिसकर तिलक करने से सम्मोहन शक्ति बढ़ती है।
 
३. स्त्रियां अपने मस्तक पर आंखों के मध्य एक लाल बिंदी लगाकर उसे देखने का प्रयास करें। यदि कुछ समय बाद बिंदी खुद को दिखने लगे तो समझ लें कि आपमें सम्मोहन शक्ति जागृत हो गई है।
 
४. गुरुवार को मूल नक्षत्र में केले की जड़ को सिंदूर में मिलाकर पीस कर रोजाना तिलक करने से आकर्षण शक्ति बढ़ती है।
 
५. गेंदे का फूल, पूजा की थाली में रखकर हल्दी के कुछ छींटे मारें व गंगा जल के साथ पीसकर माथे पर तिलक लगाएं आकर्षण शक्ति बढ़ती है।
 
६. कई बार आपको यदि ऐसा लगता है कि परेशानियां व समस्याएं बढ़ती जा रही हैं। धन का आगमन रुक गया है या आप पर किसी द्वारा तांत्रिक अभिकर्म'' किया गया है तो आप यह टोटके अवश्य प्रयोग करें, आपको इनका प्रभाव जल्दी ही प्राप्त होगा।
 
तांत्रिक अभिकर्म से प्रतिरक्षण हेतु उपाय
 
१. पीली सरसों, गुग्गल, लोबान व गौघृत इन सबको मिलाकर इनकी धूप बना लें व सूर्यास्त के 1 घंटे भीतर उपले जलाकर उसमें डाल दें। ऐसा २१ दिन तक करें व इसका धुआं पूरे घर में करें। इससे नकारात्मक शक्तियां दूर भागती हैं।
 
२. जावित्री, गायत्री व केसर लाकर उनको कूटकर गुग्गल मिलाकर धूप बनाकर सुबह शाम २१ दिन तक घर में जलाएं। धीरे-धीरे तांत्रिक अभिकर्म समाप्त होगा।
 
३. गऊ, लोचन व तगर थोड़ी सी मात्रा में लाकर लाल कपड़े में बांधकर अपने घर में पूजा स्थान में रख दें। शिव कृपा से तमाम टोने-टोटके का असर समाप्त हो जाएगा।
 
४. घर में साफ सफाई रखें व पीपल के पत्ते से ७ दिन तक घर में गौमूत्र के छींटे मारें व तत्पश्चात् शुद्ध गुग्गल का धूप जला दें।
 
५. कई बार ऐसा होता है कि शत्रु आपकी सफलता व तरक्की से चिढ़कर तांत्रिकों द्वारा अभिचार कर्म करा देता है। इससे व्यवसाय बाधा एवं गृह क्लेश होता है अतः इसके दुष्प्रभाव से बचने हेतु सवा 1 किलो काले उड़द, सवा 1 किलो कोयला को सवा 1 मीटर काले कपड़े में बांधकर अपने ऊपर से २१ बार घुमाकर शनिवार के दिन बहते जल में विसर्जित करें व मन में हनुमान जी का ध्यान करें। ऐसा लगातार ७ शनिवार करें। तांत्रिक अभिकर्म पूर्ण रूप से समाप्त हो जाएगा।
 
६. यदि आपको ऐसा लग रहा हो कि कोई आपको मारना चाहता है तो पपीते के २१ बीज लेकर शिव मंदिर जाएं व शिवलिंग पर कच्चा दूध चढ़ाकर धूप बत्ती करें तथा शिवलिंग के निकट बैठकर पपीते के बीज अपने सामने रखें। अपना नाम, गौत्र उच्चारित करके भगवान् शिव से अपनी रक्षा की गुहार करें व एक माला महामृत्युंजय मंत्र की जपें तथा बीजों को एकत्रित कर तांबे के ताबीज में भरकर गले में धारण कर लें।
 
७. शत्रु अनावश्यक परेशान कर रहा हो तो नींबू को ४ भागों में काटकर चौराहे पर खड़े होकर अपने इष्ट देव का ध्यान करते हुए चारों दिशाओं में एक-एक भाग को फेंक दें व घर आकर अपने हाथ-पांव धो लें। तांत्रिक अभिकर्म से छुटकारा मिलेगा।
 
८. शुक्ल पक्ष के बुधवार को ४ गोमती चक्र अपने सिर से घुमाकर चारों दिशाओं में फेंक दें तो व्यक्ति पर किए गए तांत्रिक अभिकर्म का प्रभाव खत्म हो जाता है।
 
 
  
  
 
  
 
  
 
  
 
  
 
  
  
  
 
  
  
 
  
  
Vashikaran is the power to control one’s mind. There are mantras given in the hindu Vedas that empowers a person to control the mind of other person.God has given these powerful mantras for good not the bad. The most common thing people want to achieve by these mantras is wealth and love.
In this  world two types of works are being done. First which can be analysed, measured, weighed can be seen or the results of which are visible. Second which are performed through faith, the result of which cannot be analysed, measured or weighed but are felt. Mantra shakti comes under the second part. The force of mantras can only be felt.
Vashikaran is being performed as it is a science that bestows occult powers on the minds of people who come in touch with it, practice it and get expertise in performing it. A combination of Yantra, mantra and some special things that might be made use of , like an object like a ring or a pendant in a chain and making it move to and fro like a pendulum are used in this is science and how one invades the other person’s hidden thoughts is something that can be done if the performer of this artistry is blessed with immense innate powers. Not all can use hypnotism to take control over others. But, it is to be done by the experts who know and have gathered power to do the process.
Most of the people misinterpret Vashikaran and Sammohan with each other but truth is, Vashikaran is far different from Sammohan. Though there are  numbers of similarities in the both, like both of them are ancient methods, both of them are used to control the senses of other person, both of them are used to force other person to follow your instructions and both of them use many mantra to carry them out. Having so many similarities, most of the people consider them comparable to each other. But truth is, they are different of each other and also used for different purposes.
Aghori Anil Ji is a practicing astrologer for the last 30 years who has experienced and practiced the power of these mantras and helped the needy.
It is experienced that the art of  vashikaran mantra is used to attract and control someone’s mind. To achieve the desired results focus is very important. For the person whom you want to take vashikaran it is very important to focus on what you are doing. By focusing on something, our body energies get channelized. In old days our rishi muni focussed very hard and got divine energies in their body. By having such focus they used have a different glow on their face. When we meditate and concentrate our body gets energies and we feel positive. A normal person can also do that, and after that his body and mind will be filled with confidence and the person in front of him will feel the effect of vashikaran.
Vashikaran task is accomplished by offering attractive services like:
Vashikaran for love
Vashikaran Totke
Vashikaran Puja
Vashikaran for women
Vashikaran for men
Vashikaran for Ex

Ask Question